गैस हादसे के पीड़ितों के संगठनों ने होनेवाले उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ प्रचार मुहीम जारी रखने की घोषणा की

पत्रकार वार्ता

फरवरी 19, 2018

भोपाल में यूनियन कार्बाइड गैस हादसे के पीड़ितों के पाँच संगठनों के नेताओं ने आज एक पत्रकार वार्ता में प्रदेश में जल्द होनेवाले उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ भोपाल में प्रचार मुहीम जारी रखने की घोषणा की | उन्होने बताया कि पुलिस और ज़िला प्रशासन द्वारा सत्ता का खुला दुरपयोग और आरएसएस के सदस्यों के आतंक की वजह से उन्हे मुंगावली छोडकर वापस आना पड़ा है | उन्होने बताया कि कल से वे मुंगावली और कोलारस के तरफ भोपाल से होकर जानेवाले ट्रेन व बस यात्रियों को पर्चे और पोस्टर बाँटेंगे |

मुंगावली की सड़कों पर हमारे उतरने के चंद मिनटों के अंदर हम में से पाँच लोगों को पाँच घण्टे थाने में बैठा लिया गया और सरकार के खिलाफ बोलने के लिए जेल भेजने की धमकी दी गई | हम उनसे पूछते रहे कि हमें किस जुर्म में बंद किया गया है और थाने के सब इन्स्पेक्टर हमे चुपचाप बैठने की हिदायत देते रहे|” कहते हैं इकबाल खान खोखर जो हाल में मुंगावली से लौटे हैं |

भोपाल गैस पीड़ित  स्टेशनरी कर्मचारी संघ की अध्यक्षा रशीदा बी ने कहा “पुरुषों के एक बड़े झुण्ड के नेता जो 30 सालों से आरएसएस के सदस्य होने का दावा कर रहे थे ने हमसे कहा कि हमे मुंगावली आने का हक नहीँ है और अगर हम भोपाल वापस नहीँ लौटे तो हमारे साथ कुछ भी हो सकता है  | उन्होने यह भी कहा कि अगर हम अपनी मुहिम रोक लें तो वे मुख्यमंत्री से हमारी माँग स्वीकृत करवा सकते हैं |”

“हमने दो गाड़ियों पर लाउडस्पीकर के साथ पर्चे और पोस्टर के लिए अनुमति मांगी तो तहसीलदार ने बगैर कारण बताए हमारे आवेदन को निरस्त कर दिया और हमे कलक्टर से मिलने को कहा |” कहा भोपाल गैस पीड़ित महिला पुरुष संघर्ष मोर्चा के नवाब खान ने | “कलक्टर ने हमसे कहा कि कि हमे अनुमति देने की बात पर वे मुख्य निर्वाचन अधिकारी के ‘फीड बैक´ का इंतज़ार कर रहे हैं और हम बाद में उनसे फोन पर संपर्क कर लें” | तब से वे न तो हमारा फोन उठा रहे हैं न मैसेज का जवाब दे रहे हैं |”

भोपाल ग्रुप फॉर इन्फॉर्मेशन एण्ड एक्शन की रचना धींगरा ने बताया “जब हमने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को तहसीलदार द्वारा हमारे अनुमति के आवेदन को निराधार अस्वीकृत करने के खिलाफ शिकायत की तो उन्होने कहा कि हम पर्चा, पोस्टर, गाड़ियों के बगैर घर घर जाकर मतदाताओं से बात करें | संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि उपचुनावों के प्रचार अभियान के दौरान हमें किसी के खिलाफ प्रचार करने की अनुमति नहीँ दी जा सकती |”

“भोपाल गैस पीड़ितों के मुआवज़े के मुद्दे पर मुख्य मंत्री के झूठे वादों की सच्चाई लोगों को पता चलने से भाजपा की घबराहट देखकर बड़ा मज़ा आ रहा है | हम तो मानो कौआ से हौआ बन गए हैं | हौआ तो कौआ से भी तेज वहाँ पहुँच जाता है जहाँ कौआ नहीँ पहुँच सकता“ कहती हैं ‘डाव कार्बाइड के खिलाफ बच्चे’ की सरिता मालवीय |

रशीदा बी

भोपाल गैस पीड़ित स्टेशनरी कर्मचारी संघ

9425688215

बालकृष्ण नामदेव

भोपाल गैस पीड़ित निराश्रित पेंशनभोगी संघर्ष मोर्चा, 9826345423

नवाब खाँ

भोपाल गैस पीड़ित महिला पुरुष संघर्ष मोर्चा

9165347881

रचना धीगरा, सतीनाथ षडंगी 

भोपाल ग्रुप फॉर इन्फॉर्मेशन एंड एक्शन, 9826167369

सरिता मालवीय

डावकार्बाइड के खिलाफ बच्चे

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply