डाव केमिकल कम्पनी को बचाने के विरोध में हादसे के पीड़ितों ने अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा का पुतला जलाया

प्रेस विज्ञप्ति

13 अगस्त 2016 

अमरीकी सरकार द्वारा यूनियन कार्बाइड गैस हादसे पर भोपाल जिला अदालत में जारी आपराधिक प्रकरण से डाव केमिकल कम्पनी को बचाने के विरोध में आज हादसे के पीड़ितों ने अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा का पुतला जलाया। अमरीकी राष्ट्रपति के दफ्तर के वेबसाइट पर 1 लाख से अधिक हस्ताक्षरकर्ताओं द्वारा जिला अदालत से डाव केमिकल के ख़िलाफ़ जारी नोटिस की अमरीकी न्याय विभाग द्वारा तामीली की माँग के जवाब में दिए गए बयान पर गैस पीड़ितों के संगठनों के नेताओं ने आक्रोश जताया।

photo_2016-08-13_16-41-23 photo_2016-08-13_16-41-14 photo_2016-08-13_16-41-26

भोपाल के समर्थक भारत में अमरीकी दूतावासों के बाहर प्रदर्शन कर यह माँग करेंगे कि अमरीकी सरकार डाव केमिकल को सरंक्षण देना बंद करे| समर्थक @POTUS और @PMO पर ट्वीट कर 19 अगस्त की पेशी पर डाव केमिकल को हाज़िर करवाने का सन्देश भी भेजेंगे |

अमरीकी राष्ट्रपति के दफ्तर से जारी बयान के अनुसार कि अगर वह अमरीकी न्याय विभाग को डाव केमिकल पर नोटिस तामिल करवाने के लिए कहती है तो यह “अनुचित दबाव” डालना  होगा| ये तो सरासर फ़रेब है |  न्याय विभाग को भारत और अमरीका के बीच की संधि की शर्तों का पालन करने को कहना अनुचित कैसे हो सकता है ?”, कहते हैं भोपाल गैस पीड़ित निराश्रित पेंशनभोगी संघर्ष मोर्चा के बालकृष्ण नामदेव।

भोपाल गैस पीड़ित महिला पुरुष संघर्ष मोर्चा के नवाब ख़ाँ कहते हैं “अमरीकी सरकार द्वारा भारत के साथ संधि की शर्तों का उल्लंघन अनुचित दवाब के बहाने से करना वाकई दिलचस्प है क्योंकि भोपाल में अमरीकी सरकार आज तक यही करती आई है। इस बात के दस्तावेज़ी सबूत है कि अमरीकी सरकार ने भोपाल में यूनियन कार्बाइड के कारख़ाने को लगाने में और भोपाल अदालत में जारी कानूनी कार्यवाही से कंपनी के अध्यक्ष वॉरेन एण्डरसन को बचाने में अनुचित दवाब का इस्तेमाल किया है।”

“अमरीकी  न्याय विभाग द्वारा भोपाल अदालत से जारी 4 नोटिसों पर अमरीका और भारत के बीच 25 साल पुरानी पारस्परिक कानूनी सहायता संधि के लगातार उल्लंघन पर भारत सरकार और ख़ासकर केंद्रीय गृह मंत्रालय की चुप्पी पर हम हैरान हैं। , कहती हैं भोपाल ग्रुप फॉर इन्फॉर्मेशन एण्ड एक्शन की रचना ढींगरा। उन्होंने  बताया कि संगठनों ने प्रधानमंत्री कार्यालय और गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिख कर यह माँग की है कि भारत सरकार पारस्परिक कानूनी सहायता संधि के तहत अमरीकी सरकार के किसी भी अनुरोध का सम्मान न करे जब तक भोपाल जिला अदालत द्वारा जारी नोटिस अमरीकी न्याय विभाग डाव केमिकल को तामील नहीं कराती है।

डाव – कार्बाइड के खिलाफ बच्चों की साफ़रीन ख़ान कहती हैं, “राष्ट्रपति ओबामा ने मैक्सिको की खाड़ी में तेल रिसाव हादसे के लिए एक ब्रिटिश कम्पनी के चूतड़ पर लात मारने की कसम खाई थी पर जब यही बात अमरीकी कंपनी के लिए आती है तो उसे वह चूमते नजर आते हैं।”

बालकृष्ण नामदेव

भोपाल गैस पीड़ित निराश्रित पेंशनभोगी संघर्ष मोर्चा, 9826345423

नवाब खाँ

भोपाल गैस पीड़ित महिला पुरुष संघर्ष मोर्चा

8718035409

रचना ढींगरा, सतीनाथ षडंगी

भोपाल ग्रुप फॉर इन्फॉर्मेशन एंड एक्शन,

9826167369

साफरीन ख़ान

डाव-कार्बाइड के खिलाफ बच्चे

Read the press release in English

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

One thought on “डाव केमिकल कम्पनी को बचाने के विरोध में हादसे के पीड़ितों ने अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा का पुतला जलाया”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.